मेरठ में फास्टैग को लागू करने की तैयारी: आज आधी रात से टोल प्लाजा पर लागू होगा फास्टैग सिस्टम, न होने पर देना होगा दोगुना टोल टैक्स

38


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मेरठएक महीने पहले

  • कॉपी लिंक

1 जनवरी से लागू हुए नए नियम के तहत इन दोनों कांउटरों की कैश लेन को भी फास्टैग में बदल दिया गया है।

  • मेरठ स्थित वेस्टर्न यूपी टोल प्लाजा पर रोजाना करीब 15 हजार वाहन गुजरते हैं

देश के सभी हाइवे टोल प्लाजा पर एनएचएआई ने वाहनों में फास्टैग अनिवार्य कर दिया है। इस नियम के तहत अब सभी वाहनों को फास्टैग से ही अपना टोल टैक्स देना होगा। यदि आपके वाहन में फास्टैग नहीं होगा तो टोल बूथ पर दोगुना टैक्स वसूला जाएगा। इस नियम को देखते हुए मेरठ में एनएच 58 पर स्थित वैस्टर्न यूपी टोल प्लाजा पर भी तैयारी की गई है। बिना फास्टैग वाले वाहनों से दो गुनी रकम वसूली जाएगी।

वेस्टर्न यूपी टोल प्लाजा पर रोजाना करीब 15 हजार वाहन गुजरते हैं

इस टोल प्लाजा पर 12 टोल बूथ हैं जिनपर वाहनों से टोल टैक्स लिया जाता है। अभी तक इस टोल प्लाजा के दो बूथ कैश काउंटर थे, यानि इन दोनों काउंटर पर उन वाहनों से टोल वसूला जाता था जिनके पास फास्टैग नहीं था। लेकिन अब 1 जनवरी से लागू हुए नए नियम के तहत इन दोनों कांउटरों की कैश लेन को भी फास्टैग में बदल दिया गया है। अब इस टोल प्लाजा पर शत प्रतिशत फास्टैग से टोल वसूली की तैयारी की गई है। इसके लिए पिछले कई दिनों से टोल प्लाजा प्रबंधन तैयारियों के साथ रिहर्सल भी कर रहा है।

इस तरह से की गई है टोल पर तैयारी
टोल प्लाजा के मैनेजर प्रदीप चौधरी ने दैनिक भास्कर से बात करते हुए बताया कि टोल प्लाजा की सभी 12 लाइनें अब फास्टैग से ही टोल लेंगी। इसके लिए कर्मचारी लगातार वाहन चालकों को मैसेज दे रहे हैं कि वह 1 जनवरी से पहले अपने वाहनों पर फास्टैग लगवालें। इसके लिए अनाउसमेंट भी किया जा रहा है। वाहन स्वामियों को टोल प्लाजा पर पम्पलेट दिये जा रहे हैं और जगह जगह पोस्टर भी लगाए गए हैं। नए नियम को पूरी तरह से लागू कराने के लिए 50 कर्मचारियों की अतिरिक्त डयूटी लगायी गई है। यदि वाहन चालक फास्टैग नहीं लगवाते हैं तो उनसे टोल बूथ पर दोगुना टैक्स वसूला जाएगा।

नए साल से वाहनों से टोल टैक्स नए नियम से वसूलने के लिए टोल प्लाजा प्रबंधन ने अपने सभी टोल बूथ के सिस्टम अपडेट कराए हैं। फास्टैग स्कैन करने में किसी तरह की परेशानी न हो इसके लिए सभी फास्टैग रीडर बदलवा दिये गए हैं। मैनेजर प्रदीप चौधरी ने बताया कि फास्टैग से टोल देने से वाहन 10 सेकेंड में टोल बूथ से निकल जाएगा। इस व्यवस्था से टोल प्लाजा पर लगने वाले जाम से निजात मिलेगी।

अभी तक 60 प्रतिशत फास्टैग
टोल प्लाजा प्रबधंन के अनुसार टोल से करीब 15 हजार वाहन रोज निकलते हैं। इनमें से अभी केवल 60 प्रतिशत वाहनों पर ही फास्टैग लगा है। 40 प्रतिशत वाहन अभी कैश में ही टोल दे रहे हैं। इनमें से 15 प्रतिशत वाहन लोकल हैं जिन्होंने फास्टैग नहीं लिया है। नए नियम के अनुसार टोल प्लाजा के 10 किमी के दायरे में आने वाले लोकल वाहनों को भी तभी टैक्स में छूट का लाभ मिलेगा जब उस पर फास्टैग लगा होगा। एनएचएआई के नियमों के तहत लोकल वाहनों को कार के टोल टैक्स में 75 प्रतिशत और काम​र्शियल वाहन में 50 प्रतिशत की छूट मिलती है।

फास्टैग से ये होंगी सुविधा
टोल प्लाजा प्रबंधन के अनुसार फास्टैग से टोल देने पर समय की बचत होगी, यहां से वाहन 10 सेकेंड में टोल बूथ से निकल जाएगा। जाम में नहीं रूकना पड़ेगा। प्रदूषण भी नहीं फैलेगा। फास्टैग से टोल देने पर 2.5 प्रतिशत कैश बैक भी मिलेगा। रिचार्ज करने की सेवा को भी फास्ट किया गया है, पहले रिचार्ज अपडेट होने में 10 मिनट तक का समय लेता था लेकिन अब यह 3 मिनट से भी कम समय में अपडेट हो जाता है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here