दो दिन में दूसरा संकट: रिपोर्ट्स में दावा- ब्रिस्बेन में टेस्ट नहीं खेलना चाहती टीम इंडिया; नेताओं ने कहा- रूल फॉलो करें तो ही आएं

30


  • Hindi News
  • Sports
  • IND VS AUS 4th Test Match Queensland Health Shadow Minister Ros Bates Sports Minister Tim Mander  ​​​​​​​ Brisbane; The Leaders Said Follow Only The RuleFollow Only The Rule

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मेलबर्न21 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

टीम इंडिया और ऑस्ट्रेलिया के बीच तीसरा टेस्ट मैच मेलबर्न में 7 जनवरी से है। जबकि चौथा मैच बिस्ब्रेन में होना है। चार टेस्ट मैचों की सीरीज 1-1 की बराबरी पर है।

टीम इंडिया के ऑस्ट्रेलिया दौरे पर दो दिन में दूसरी परेशानी सामने आ गई है। बायो सिक्योर प्रोटोकॉल तोड़ने पर रोहित शर्मा समेत पांच प्लेयर आईसोलेट किए जा चुके हैं। अब कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि ब्रिस्बेन (क्वींसलैंड राज्य) में कड़े प्रोटोकॉल की वजह से टीम इंडिया वहां चौथा टेस्ट नहीं खेलना चाहती। इन रिपोर्ट्स के बाद क्वींसलैंड सरकार ने सख्त रुख अपनाया। कहा- राज्य के कोरोना प्रोटोकॉल को फॉलो करने पर ही यहां आने की मंजूरी दी जाएगी। भारतीय टीम को प्रोटोकॉल फॉलो करने की नसीहत क्वींसलैंड सरकार के शेडो हेल्थ मिनिस्टर रॉस बैट्स और स्पोर्टस मिनिस्टर टीम मंडर ने दी है। दरअसल, ऑस्ट्रेलिया के राज्यों में विपक्ष के भी मंत्री होते हैं जो सरकार के मंत्रियों के कामकाज पर नजर रखते हैं। इन्हें विपक्ष का नेता अपॉइंट करता है। यानी विपक्षी द्वारा तय किए गए मंत्रियों को शेडो मिनिस्टर कहा जाता है।

तीसरा टेस्ट 7 से सिडनी में

टीम इंडिया और ऑस्ट्रेलिया तीसरे टेस्ट मैच के लिए सोमवार को मेलबर्न से सिडनी पहुंचेगी तीसरा टेस्ट मैच 7 जनवरी से खेला जाना है। जबकि चार टेस्ट मैचों की सीरीज का अंतिम मैच 15 जनवरी से बिस्ब्रेन में होना है। रिपोर्ट्स में दावा किया गया था भारतीय टीम ब्रिस्बेन में क्वारैंटाइन नियमों के कारण वहां नहीं खेलना चाहती है। क्योंकि वहां खिलाड़ियों को ट्रेनिंग के अलावा बाहर जाने की इजाजत नहीं होगी

कोरोना नियम पालन नहीं करने पर इंट्री नहीं

शेडो हेल्थ मिनिस्टर रोस बेट्स ने फॉक्स स्पोर्ट्स से बातचीत में कहा-क्वींसलैंड गवर्नमेंट प्रोटोकॉल नियमों की पालन नहीं करने पर टीम इंडिया को इंट्री नहीं करने देगी। अगर टीम इंडिया नियमों का पालन नहीं करना चाहती है, तो वह न आए।

सभी के लिए नियम एक समान

शेडो स्पोर्ट्स मिनिस्टर टीम मंडर ने कहा- किसी के लिए भी नियम में बदलाव नहीं किया जा सकता है। सभी को नियमों का पालन करना होगा। अगर टीम इंडिया क्वारैंटाइन नियमों का पालन नहीं करना चाहती है, तो उसे नहीं आना चाहिए। सभी के लिए एक समान नियम है और सभी को इसका पालन करना चाहिए।
ऑस्ट्रेलियाई ओपनर बोले- ब्रिस्बेन में ही हो चौथा टेस्ट

ऑस्ट्रेलिया के ओपनर मैथ्यू वेड ने भी कहा- वे चाहते हैं कि ब्रिस्बेन चौथा टेस्ट मैच हो। सभी को शेड्यूल का पालन करना चाहिए। वे सिडनी में एक बाद एक मैच नहीं खेलना चाहते हैं। वे ब्रिस्बेन में खेलने को लेकर तैयार है। वहां पर ट्रेनिंग के बाद खिलाड़ियों को होटल में रहना पड़ेगा और मैच के बाद उन्हें होटल में जाना होगा। वे इसके लिए तैयार हैं। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया शेड्यूल के मुताबिक ही चौथ मैच कराएगा।

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया स्पष्ट कर चुका है कि शेड्यूल में कोई बदलाव नहीं

उधर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के सीईओ निक हॉकले ने पिछले हफ्ते स्पष्ट किया था कि एक के बाद एक सिडनी में मैच कराना संभव नहीं है। क्योंकि चार दिनों में दूसरा टेस्ट पिच तैयार नहीं हो सकता है।

सीरीज में टीम इंडिया और ऑस्ट्रेलिया बराबरी पर
चार टेस्ट मैचों की सीरीज में ऑस्ट्रेलिया और टीम इंडिया ने एक- एक मैच जीतकर सीरीज में बराबरी पर हैं। पहला टेस्ट मैच ऑस्ट्रेलिया ने टीम को 8 विकेट से हराया था। जबकि बॉक्सिंग टेस्ट मैच में टीम इंडिया ने जीत हासिल की थी।

पांच खिलाड़ी आइसोलेट
वहीं शनिवार को टीम के वाइस कैप्टन रोहित शर्मा, पृथ्वी शाह, शुभमन गिल, नवदीप सैनी, ऋषभ पंत कोरोना प्रोटोकॉल नियम तोड़ने के कारण आईसोलेट हैं। इन पांचों खिलाड़ियों ने रेस्टोरेंट में जाकर खाना खाया था। जबकि कोरोना प्रोटोकॉल के तहत इंडोर में जाकर खाना नहीं खा सकते हैं।

हालांकि आउटडोर में जाकर खाना खा सकते हैं। इन विडियो वायरल होने के बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने जांच बैठा दी है। अगर जांच के बाद इन खिलाड़ियों पर प्रोटोकॉल तोड़ने का आरोप सही पाया जाता है तो शायद ये मैच नहीं खेल पाएंगे। रोहित शर्मा, ऋषभ पंत और शुभमन गिल का तीसरा टेस्ट में खेलना लगभग तय था। ऐसे में इन खिलाड़ियों के नहीं खेल पाने से टीम इंडिया की बैटिंग लाइन पर असर पड़ सकता है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here