जौनपुर में अपहरण के बाद हत्या: ITI के दो छात्रों ने पैथोलॉजी संचालक के बेटे को अगवा करने के बाद गला घोंट दिया; 7 लाख की मांगी थी फिरौती

35


  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Varanasi
  • Jaunpur Murder After Kidnaping Case Latest Updates । Two ITI Students Strangled Son Of Pathology Operator After Kidnaping In Uttar Pradesh Jaunpur

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जौनपुर24 दिन पहले

अभिषेक।- फाइल फोटो

  • शाहगंज कोतवाली क्षेत्र का मामला
  • पुलिस ने दोनों आरोपियों को पकड़ा

उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले में अपहरण के बाद हत्या का मामला सामने आया है। आरोप है कि ITI के दो छात्रों ने पैथोलॉजी संचालक के बेटे का अपहरण किया और 7 लाख की फिरौती मांगी। लेकिन जब तक पुलिस मौके पर पहुंची, आरोपियों ने बच्चे की गला घोंटकर हत्या कर दी। पुलिस ने बच्चे का शव बरामद किया है। पुलिस ने दोनों अपहरणकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया है। एक अपहरणकर्ता बच्चे का ही पुराना ट्यूशन टीचर है।

शनिवार सुबह कोचिंग पढ़ने निकला था बच्चा
शाहगंज कोतवाली क्षेत्र के बैंकर्स कालोनी के रहने वाले दीपचंद पैथोलॉजी संचालक हैं। उनका 6 साल का बेटा अभिषेक नर्सरी में पढ़ता था। रोजाना की तरह वह शनिवार की सुबह 10 बजे अपने घर से 100 मीटर दूरी पर स्थित कोचिंग के पढ़ने गया था। लेकिन काफी देर तक वापस नहीं आया। परिजन उसे खोजते हुए कोचिंग गए तो उन्हें पता चला कि अभिषेक आज कोचिंग ही नही पहुंचा था। परिजन उसकी तलाश में थे कि तभी उनके मोबाइल पर एक मैसेज आया। जिसमें लिखा था कि 7 लाख रुपए दे दो, वरना बेटे की हत्या कर देंगे।

लूट के मोबाइल से किया था मैसेज

बच्चे के अपहरण की घटना से डरे परिजन पुलिस के पास पहुंचे और पूरे मामले से अवगत कराया। घटना की जानकारी होते ही SP जौनपुर राज करन नैय्यर भी मौके पर पहुंचे और एक टीम गठित कर अपहरणकर्ताओं तक पहुंचने के प्रयास में जुट गए। पुलिस ने जांच शुरू की और उस मोबाइल नंबर के यूजर के पास पहुंचे जिस नंबर से मैसेज आया था। मोबाइल यूजर ने बताया कि आज बाइक सवार दो लोगों ने उसका मोबाइल बात करने के लिए मांगा और फिर उसे लेकर भाग गए थे। पुलिस ने अपनी जांच जारी रखी और शनिवार देर रात अपहरणकर्ताओं तक पहुंच गई और उन्हें गिरफ्तार कर लिया। लेकिन तब तक अपहरणकर्ताओं ने अभिषेक की गला घोंटकर हत्या कर दी थी।

मोहल्ले में ही किराए पर रहते थे दोनों आरोपी

दरअसल ITI के दो छात्र शिवम श्रीवास्तव और आकाश कॉलोनी में ही किराए के मकान में रहते थे। उनका अभिषेक के घर आना जाना था और अभिषेक को पहले ट्यूशन पढ़ाने का काम करते थे। जिसके कारण बच्चा उन्हें जनता था। 2 जनवरी की सुबह जब अभिषेक घर से कोचिंग जाने के लिए निकला तो आकाश और शिवम उसे अपने साथ बाइक पर बैठा कर ले गए और एक पानी के टंकी में रख दिया। अभिषेक ने मदद के लिए जब शोर मचाया तो दोनों ने मफलर से गला घोंट कर उसकी निर्मम हत्या कर डाली। उसके बाद दोनों ने एक युवक का मोबाइल छीना और मैसेज करके फिरौती की मांग किया।

घटना के बाद रोते बिलखते परिजन।

एसपी बोले- बच्चे को नहीं बचा सके, इसका हमें दुख

पुलिस अधीक्षक राजकरन नैय्यर ने बताया कि बड़े दुख की बात है कि हम बच्चे को नहीं बचा सके। आरोपियों के खिलाफ शाहगंज कोतवाली में अपहरण और फिरौती का मुकदमा दर्ज किया गया है। हत्या की धाराएं भी जोड़ी जाएंगी। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here