जूनियर खिलाड़ियों का बढ़ता रुतबा: 12 साल की साेहिनी ने 40 नेशनल खिताब जीते, 9 साल के फुटबॉलर प्रीतम को जर्मन खिलाड़ी ने जर्सी भेजी

38


  • Hindi News
  • Local
  • Delhi ncr
  • When 12 year old Saheini Won 40 National Titles, 9 year old Footballer Pritam’s Game Saw German Player Ozil Send Jersey

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली12 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

भारत के जूनियर खिलाड़ी अलग अलग खेलों में लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। 15 साल से कम उम्र के ऐसे कई खिलाड़ी हैं, जिन्हें भविष्य का बड़ा स्टार माना जा रहा है। इन खिलाड़ियों ने टेनिस, शूटिंग सहित कई खेलों में अपना लोहा मनवाया है। इनसे आने वाले समय में ओलिंपिक मेडल की भी उम्मीद है। हम आपको ऐसे ही कुछ खिलाड़ियों के बारे में बता रहे हैं…

  • सोहिनी मोहंती (12 साल): 12 साल सोहिनी मोहंती ओडिशा की टेनिस खिलाड़ी हैं। उन्होंने 2019 में नेशनल सुपर सीरीज टूर्नामेंट में अंडर-12 गर्ल्स सिंगल्स का खिताब जीता था। उनके पास 40 से ज्यादा नेशनल के खिताब हैं। वे अंडर-14 में भी खेलती हैं।
  • प्रीतम ब्रह्मा (9 साल): बेबी लीग में गुवाहाटी सिटी एफसी के लिए खेलते हुए प्रीतम मोस्ट वैल्यूएबल खिलाड़ी चुने गए थे। उन्होंने 18 गोल करने के साथ 16 असिस्ट भी किए। लेफ्ट विंगर प्रीतम को जर्मनी के पूर्व स्टार फुटबॉलर ओजिल ने जर्सी भेजी।
  • हंसिनी राजन (10 साल): 2020 में चेन्नई की टेबल टेनिस खिलाड़ी हंसिनी ने स्वीडिश मिनी कैडेट कैटेगरी में ब्रॉन्ज जीता था। शरत कमल को कोचिंग दे चुके मुरलीधर राव की निगरानी में ट्रेनिंग कर रही हैं। वे 2028 ओलिंपिक में मेडल की बड़ी दावेदार मानी जा रही हैं।
  • अभिनव शॉ (12 साल): बंगाल के अभिनव शॉ शूटर हैं। खेलो इंडिया यूथ गेम्स में गोल्ड जीतकर वे गेम्स में गोल्ड जीतने वाले सबसे कम उम्र के खिलाड़ी बने। जॉयदीप की निगरानी ट्रेनिंग। उनका नाम ओलिंपिक के गोल्ड मेडलिस्ट अभिनव बिंद्रा के नाम पर रखा गया है।
  • लक्ष्य शर्मा (15 साल): लक्ष्य शर्मा को बैडमिंटन का भविष्य माना जा रहा है। अंडर-15 और अंडर-17 कैटेगरी में प्रतिनिधित्व किया है। उन्होंने 2019 में ग्लासगो यूथ इंटरनेशनल जीता और स्विस यूथ ओपन टूर्नामेंट जीता था। उनके नाम कई नेशनल मेडल भी हैं।

स्विमिंग खिलाड़ी जय जसवंत (10 साल), सेलिंग में पर्ल कोलवाल्कर (13 साल), स्क्वैश में अनहत सिंह (11 साल) और ताइक्वांडो में दिव्यांश मीरचंदानी (10 साल) ने भी पिछले कुछ सालों में शानदार प्रदर्शन किया है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here