कोरोना पर राहत की खबर: भारत 8 महीने बाद टॉप-10 संक्रमित देशों की लिस्ट से बाहर; अब सिर्फ 2.25 लाख मरीज बचे

32


  • Hindi News
  • National
  • India USA Russia; Coronavirus Cases Update | India Out Of Top Ten Most affected Countries List With Highest Number Of COVID Cases

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली12 दिन पहले

  • कॉपी लिंक

कोरोना पर राहत की खबर है। भारत 8 महीने बाद दुनिया के टॉप-10 संक्रमित देशों की लिस्ट से बाहर हो गया है। यहां अब 2.25 लाख मरीज ऐसे हैं, जिनका इलाज चल रहा है। ऐसे ही मरीजों को एक्टिव केस कहा जाता है। बाकी एक करोड़ लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 1 लाख 50 हजार 151 मरीजों की मौत हो चुकी है। मई में भारत टॉप-10 संक्रमित देशों की सूची में आया था। सितंबर तक दुनिया का दूसरा सबसे संक्रमित देश हो गया था।

पूरी दुनिया में ऐसे एक्टिव केस की संख्या 2.34 करोड़ है। इनमें भारत के केवल 0.94% मरीज हैं। सबसे ज्यादा 35.67% एक्टिव केस अमेरिका में हैं। दूसरे नंबर पर फ्रांस है, जहां 10.32% एक्टिव केस हैं। तीसरे नंबर पर ब्राजील है, जहां 2.78% एक्टिव केस बचे हैं।

4 महीने के अंदर 9.93 लाख से ज्यादा एक्टिव केस घटे
देश में कोरोना का पहला केस 30 जनवरी को केरल में सामने आया था। मार्च तक 1425 एक्टिव केस थे। मतलब इन मरीजों का इलाज चल रहा था। इसके बाद से इसमें बढ़ोतरी शुरू हुई। जून तक ऐसे मरीजों की संख्या बढ़कर 2.20 लाख तक हो गई।

17 सितंबर को देश में कोरोना का पीक आया। एक्टिव केस की संख्या 10.17 लाख से ज्यादा थी। उस वक्त भारत दुनिया का दूसरा सबसे संक्रमित देश था। अमेरिका पहले नंबर पर था। 17 सितंबर के बाद से इसमें गिरावट शुरू हुई। अक्टूबर तक इसमें तीन लाख से ज्यादा केस घटे और मरीजों की संख्या 7.83 लाख हो गई। अब तक इसमें 9.93 लाख से ज्यादा एक्टिव केस कम हो चुके हैं।

हर 100 मरीजों में 96 लोग ठीक हो रहे
देश में कोरोना मरीजों के ठीक होने की रफ्तार 96.3% हो गई है। मतलब अब हर 100 मरीजों में 96 लोग ठीक हो रहे हैं। रिकवरी के मामले में भारत दुनिया के टॉप-20 संक्रमित देशों में सबसे आगे है। अमेरिका, ब्राजील, फ्रांस, रूस, स्पेन, ब्रिटेन जैसे कई बड़े देश भी भारत के मुकाबले काफी पीछे छूट गए हैं।

मौत की रफ्तार में 23% की गिरावट
देश में कोरोना से अब तक 1.4% यानी डेढ़ लाख मरीजों की मौत हुई है। हालांकि, अच्छी खबर ये है कि इसमें पिछले 4 महीनों से गिरावट हो रही है। सितंबर तक देश में हर दिन 1000 से 1300 मौतें हो रहीं थीं। इसके बाद इसमें गिरावट शुरू होने लगी। आंकड़ों पर नजर डालें तो सितंबर में सबसे ज्यादा 32 हजार 246 लोगों की मौत हुई। अक्टूबर में यह संख्या घटकर 22 हजार 344 हो गई। नवंबर में 15 हजार 17 और दिसंबर में 10 हजार 858 मरीजों ने जान गंवाई। इन तीन महीनों के अंदर मौत की रफ्तार में 23% की गिरावट दर्ज की गई है।

भारत में कोरोना की हालत

  • देश में हर 10 लाख की आबादी में 7481 नए केस मिल रहे हैं। 108 मौतें हो रही हैं।
  • इतनी ही आबादी में 1.27 लाख लोगों की जांच हो रही है।
  • देश में अभी 8944 मरीज ऐसे हैं, जिनकी हालत गंभीर है। मतलब ये ICU में हैं।
  • देश के 22 राज्य और केंद्र शासित राज्य ऐसे हैं, जहां डेथ रेट 1.4% या इससे कम है।
  • डेथ रेट का नेशनल एवरेज 1.4% है। मतलब हर 100 कोरोना मरीजों में एक मरीज की मौत हो रही है।
  • पंजाब का डेथ रेट सबसे हाई है। यहां अब तक 3.2% मरीजों की मौत हो चुकी है। महाराष्ट्र के 2.6% मरीज जान गंवा चुके हैं।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here